स्लॉट 45 एसएलवी

स्लॉट 45 एसएलवी

time:2021-10-17 05:33:44 सितंबर में रत्न एवं आभूषणों का निर्यात 29.67 प्रतिशत बढ़कर 23,259 करोड़ रुपये पर Views:4591

स्लॉट 6000 स्लॉट 45 एसएलवी 10cric ऑनलाइन बेटिंग,casumo आइंजाहलुंग,लियोवेगास क्यू२ 2020,lovebet बर्नले,lovebet नया खाता प्रस्ताव,lovebet आपके विवरण को पहचाना नहीं गया,वैकल्पिक ए लवबेट,बैकरेट क्षेत्र डेटा आँकड़े,बैकारेट गिलास के नुकसान,सट्टेबाजी की नौकरियां माल्टा,कैसीनो एपीके डाउनलोड,कैसीनो आप फोन द्वारा भुगतान कर सकते हैं,क्लासिक रम्मी प्लस लॉगिन,क्रिकेट जर्सी मॉडल,ई लॉटरी अप उत्पाद शुल्क,यूरोपीय फुटबॉल समय सारिणी,फुटबॉल नेट सट्टेबाजी,जेनेसिस कैसिनो नो डिपॉजिट बोनस 2020,फ़ुटबॉल मैच कितने समय तक चलता है,आईपीएल नौकरियां 2021,जैकपॉट तमिल पूरी फिल्म,लाइव लाठी बोली,हांगकांग और ताइवान से लाइव वेबकास्ट,लॉटरी क्रिसमस ड्रा 2019,एनबीए बास्केटबॉल सट्टेबाजी साइट,ऑनलाइन कैसीनो यूटन लाइसेंस,ऑनलाइन पोकर इंडिया रियल मनी,पैरिमैच मुफ्त डाउनलोड,क्रम में पोकर हाथ,r/pokerrr2,नियम दोहरा व्यंजन,रम्मी वेरिएंट ऐप,स्लॉट मशीन चित्र,स्पोर्ट्स 4 चेंज,स्पोर्ट्सबुक हॉर्स रेसिंग,टेक्सास होल्डम कार्टेन,शीर्ष 5 रम्मी ऐप्स,Baccarat की रोड लिस्ट क्या है?,एक्सबॉक्स पोकर,इलेक्ट्रॉनिक खेल रेट,क्या बैकारेट उचित है?,गोवा किस राज्य में है,डिटेल d1 मोबाइल,फुटबॉल वेब गेम Daquan,बेटा योजना,लॉटरी टिकट कहाँ से खरीदे,हर साल से ज्यादा .सितंबर में रत्न एवं आभूषणों का निर्यात 29.67 प्रतिशत बढ़कर 23,259 करोड़ रुपये पर

मुंबई, 16 अक्टूबर (भाषा) रत्न एवं आभूषणों का निर्यात सितंबर, 2021 में 29.67 प्रतिशत बढ़कर 23,259.55 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। रत्न एवं आभूषण निर्यात संवर्द्धन परिषद (जीजेईपीसी) ने शनिवार को यह जानकारी दी।

एक साल पहले समान महीने में यह आंकड़ा 17,936.86 करोड़ रुपये रहा था। वहीं सितंबर, 2019 में 23,491.20 करोड़ रुपये के रत्न एवं आभूषणों का निर्यात हुआ था।

जीजेईपीसी ने बयान में कहा कि चालू वित्त वर्ष के पहले छह माह अप्रैल-सितंबर में रत्न एवं आभूषणों का निर्यात इससे पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि की तुलना में 134.55 प्रतिशत बढ़कर 1,40,412.94 करोड़ रुपये पर पहुंच गया।

जीजेईपीसी के चेयरमैन कोलिन शाह ने कहा, ‘‘अप्रैल-सितंबर में 1,40,412.94 करोड़ रुपये या 18.98 अरब डॉलर के निर्यात के साथ रत्न एवं आभूषण क्षेत्र ने सरकार द्वारा क्षेत्र के लिए तय लक्ष्य 41.66 अरब डॉलर का आधा (करीब 46 प्रतिशत) हासिल कर लिया है। बाजारों के खुलने तथा धीरे-धीरे मांग सामान्य होने से उद्योग की धारणा सकारात्मक हो रही है।’’

उन्होंने कहा कि अब त्योहारी सीजन आ रहा है। ऐसे में जीजेईपीसी को वित्त वर्ष के अंत तक निर्यात लक्ष्य को हासिल करने की उम्मीद है।

अप्रैल-सितंबर, 2021 में कटे और पॉलिश हीरों (सीपीडी) का निर्यात 122.62 प्रतिशत बढ़कर 91,489.2 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। इससे पिछले साल की समान अवधि में यह 41,095.89 करोड़ रुपये था।

इसी तरह सोने के आभूषणों का निर्यात अप्रैल-सितंबर में 262.66 प्रतिशत बढ़कर 8,100.97 करोड़ रुपये से बढ़कर 29,379.36 करोड़ रुपये पर पहुंच गया।

इस अवधि में चांदी के आभूषणों का निर्यात 48.25 प्रतिशत बढ़कर 9,477.39 करोड़ रुपये रहा, जो एक साल पहले समान अवधि में 6,392.65 करोड़ रुपये था।

(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)
(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)

ETPrime stories of the day

How DealShare’s multitasking community leaders can help it build a Meesho for grocery beyond metros
Digital economy

How DealShare’s multitasking community leaders can help it build a Meesho for grocery beyond metros

12 mins read
PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.
Modern retail

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.

2 mins read
Rooms and reservations: what Oyo’s DRHP tells and does not tell us about its business
Markets

Rooms and reservations: what Oyo’s DRHP tells and does not tell us about its business

8 mins read

नयी दिल्ली, 16 अक्टूबर (भाषा) डी-मार्ट नाम से खुदरा श्रृंखला का संचालन करने वाली एवेन्यू सुपरमार्ट्स लि. ने शनिवार को बताया कि सितंबर, 2021 को समाप्त चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में उसका एकीकृत शुद्ध लाभ दोगुना होकर 417.76 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। एवेन्यू सुपरमार्ट्स ने बीएसई को भेजी सूचना में यह जानकारी दी। इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में कंपनी ने 198.53 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया था। कंपनी ने बताया कि चालू वित्त वर्ष की जुलाई-सितंबर तिमाही में उसकी परिचालन आय 46.79 प्रतिशत बढ़कर 7,788.94 करोड़ रुपये हो गई, जो इससे पिछलेवाशिंगटन, 16 अक्टूबर (भाषा) कोविड-19 के टीके के विनिर्माण को प्रोत्साहन देने के क्वाड के प्रयासों के तहत अमेरिका के अंतरराष्ट्रीय विकास वित्त निगम (डीएफसी) के प्रमुख डेविड मार्किक इस महीने भारत यात्रा पर जाएंगे। डीएफसी एक सरकारी विकास वित्त संस्थान है, जो निम्न और मध्यम आय वर्ग वाले देशों में विकास परियोजनाओं में निवेश करता है। डीएफसी के मुख्य परिचालन अधिकारी (सीओओ) मार्किक 24 अक्टूबर से 26 अक्टूबर तक उच्चस्तरीय प्रतिनिधिमंडल के साथ भारत यात्रा पर जाएंगे। एक आधिकारिक बयान में कहा गया है कि हैदराबाद में यह प्रतिनिधिमंडल भारतीय टीका विनिर्माता बायोलॉजिकल-ई के कार्यालय जाएगा औरबाइडन प्रशासन, अमेरिकी कंपनियों ने भारत के आर्थिक सुधारों को सराहा : सीतारमण

(ललित के झा)वाशिंगटन, 16 अक्टूबर (भाषा) वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने जलवायु वित्तपोषण को चिंता का विषय बताया है। उन्होंने वित्त पोषण के तंत्र और प्रौद्योगिकी हस्तांतरण को लेकर भारत की चिंता का भी इजहार किया। अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष (आईएमएफ) और विश्व बैंक की यहां बैठकों के समापन के बाद सीतारमण ने कहा कि यह स्पष्ट नहीं है कि सीओपी 21 (कॉन्फ्रेंस ऑफ पार्टीज) के विस्तार के मद्देजनर 100 अरब डॉलर प्रतिवर्ष की प्रतिबद्धता कैसे जताई गई है। सीतारमण ने कहा, ‘‘मेरी तरफ से मैंने एक यह विषय उठाया और कई लोग इस बात का संज्ञान लेते हैं। हमें(के जे एम वर्मा) बीजिंग, 16 अक्टूबर (भाषा) चीन ने कहा है कि सीमा संबंधी वार्ता में तेजी लाने के लिए तीन चरणों वाले रोडमैप को मजबूत करने और थिम्पू के साथ राजनयिक संबंध स्थापित करने में ''सार्थक योगदान'' के वास्ते उसने भूटान के साथ समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए हैं। दोनों देशों ने चीन-भूटान सीमा वार्ता में तेजी लाने के लिए 14 अक्टूबर को वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से एक एमओयू पर हस्ताक्षर किए। समझौते पर हस्ताक्षर करने वाले चीन के सहायक विदेश मंत्री वू जियानघाओ ने कहा, ''मेरा मानना है कि आज जिस समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किएमोबाइल में डिजिटल रेडियो के एकीकरण से वैश्विक अवसर बढ़ेंगे: एक्सपेरी

मुंबई, 16 अक्टूबर (भाषा) रत्न एवं आभूषणों का निर्यात सितंबर, 2021 में 29.67 प्रतिशत बढ़कर 23,259.55 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। रत्न एवं आभूषण निर्यात संवर्द्धन परिषद (जीजेईपीसी) ने शनिवार को यह जानकारी दी। एक साल पहले समान महीने में यह आंकड़ा 17,936.86 करोड़ रुपये रहा था। वहीं सितंबर, 2019 में 23,491.20 करोड़ रुपये के रत्न एवं आभूषणों का निर्यात हुआ था। जीजेईपीसी ने बयान में कहा कि चालू वित्त वर्ष के पहले छह माह अप्रैल-सितंबर में रत्न एवं आभूषणों का निर्यात इससे पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि की तुलना में 134.55 प्रतिशत बढ़कर 1,40,412.94 करोड़ रुपये परभारत के इस महत्वाकांक्षी योजना के ब्लूप्रिंट में मल्टीमॉडल ट्रांसपोर्ट की बात की गई है और इसमें सड़क, रेलवे और पोर्ट आदि सभी शामिल हैं। बेहतर कनेक्टिविटी से तेज आर्थिक विकास का मौका पैदा होता है।सीतारमण ने विश्व बैंक प्रमुख के साथ कोविड बाद के आर्थिक पुनरुद्धार पर चर्चा की

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
बकारट सिज़ू रोड

जेआरडी टाटा भारत के पहले पायलट थे। उन्होंने साल 1932 में टाटा एयरलाइंस की शुरुआत की थी, जो आज एयर इंडिया के नाम से जानी जाती है। 89 साल पहले यानी 15 अक्टूबर 1932 को टाटा एयरलाइंस की पहली उड़ान जेआरडी द्वारा संचालित की गई थी। वह सिंगल इंजन वाले ‘डी हैविलैंड पस मोथ’ विमान को कराची से बंबई तक उड़ाकर लेकर गए। उस वक्त जेआरडी महज 28 वर्ष के थे। विमान में 25 किलोग्राम हवाई डाक थी। विमान जुहू में लैंड हुआ। विमान ने कराची से बॉम्बे-जुहू के लिए अहमदाबाद के माध्यम से 850 किमी लंबे सर्किट मार्ग को ट्रैक किया था।

फुटबॉल जर्सी सेट

नयी दिल्ली, 16 अक्टूबर (भाषा) आयकर विभाग ने लैपटॉप और मोबाइल फोन के एक व्यापारी पर छापेमारी के दौरान बड़ी मात्रा में आयात बिल या चालान (इन्वॉयस) को कम कर दिखाने के मामले का पता लगाया है। केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने शनिवार को यह जानकारी दी। सीबीडीटी के अनुसार, 10 अक्टूबर को दिल्ली-एनसीआर समेत हरियाणा और पश्चिम बंगाल के कई इलाकों में इस संबंध में छापेमारी की गई। आयकर विभाग के लिए नीति बनाने वाली संस्था सीबीडीटी ने एक बयान में कहा, ‘‘तलाशी के दौरान मिले और जब्त किए गए सबूतों से पता चलता है कि विदेशी

एस्पोर्ट्स बांग्ला में अर्थ

मुंबई, 16 अक्टूबर (भाषा) रत्न एवं आभूषणों का निर्यात सितंबर, 2021 में 29.67 प्रतिशत बढ़कर 23,259.55 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। रत्न एवं आभूषण निर्यात संवर्द्धन परिषद (जीजेईपीसी) ने शनिवार को यह जानकारी दी। एक साल पहले समान महीने में यह आंकड़ा 17,936.86 करोड़ रुपये रहा था। वहीं सितंबर, 2019 में 23,491.20 करोड़ रुपये के रत्न एवं आभूषणों का निर्यात हुआ था। जीजेईपीसी ने बयान में कहा कि चालू वित्त वर्ष के पहले छह माह अप्रैल-सितंबर में रत्न एवं आभूषणों का निर्यात इससे पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि की तुलना में 134.55 प्रतिशत बढ़कर 1,40,412.94 करोड़ रुपये पर

लॉटरीऑफिस औ

जिस प्रॉडक्ट को ऑनलाइन खरीद रहे हैं, उसके बारे में जरूर चेक करें कि प्रॉडक्ट के लिए रिटर्न का विकल्प है या नहीं। अगर कहीं प्रॉडक्ट में कोई खराबी निकली या प्रॉडक्ट आपको पसंद नहीं आया तो रिटर्न पॉलिसी के तहत प्रॉडक्ट को या तो वैसे ही दूसरे प्रॉडक्ट से बदला जा सकता है या फिर लौटाकर पैसे वापस पाए जा सकते हैं। अगर रिटर्न पॉलिसी है तो उसके नियम व शर्तें अच्छे से पढ़ें कि प्रॉडक्ट को कितने दिन के अंदर रिटर्न किया जा सकता है, प्रॉडक्ट को रिटर्न करने के लिए कहीं कोई शर्त लागू तो नहीं है आदि।यह भी चेक करें कि रिटर्न का विकल्प लेने पर प्रॉडक्ट लेने ई-कॉमर्स वेबसाइट या प्रॉडक्ट की मैन्युफैक्चरिंग कंपनी से कोई आपके घर आएगा या फिर आपको प्रॉडक्ट कंपनी के पास भेजना होगा। अगर ऐसी शर्त है कि आपको प्रॉडक्ट कंपनी के पास भेजना होगा तो ई-कॉमर्स कंपनी की प्रॉडक्ट रिटर्न में कोई भूमिका नहीं होती है, ग्राहक को प्रॉडक्ट कंपनी को भेजने में आने वाला खर्च वहन करना होता है।

तीन पत्ती mahal

वाशिंगटन, 16 अक्टूबर (भाषा) केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने विश्व बैंक के अध्यक्ष डेविड मालपास के साथ अपनी बैठक के दौरान कोविड-19 महामारी के बाद आर्थिक पुनरुद्धार और महामारी के खिलाफ वैश्विक लड़ाई में भारत की भूमिका समेत कई अन्य मुद्दों पर चर्चा की। सीतारमण ने शुक्रवार को वाशिंगटन डीसी में विश्व बैंक मुख्यालय में मालपास से मुलाकात के दौरान आगामी जलवायु परिवर्तन सम्मेलन की तैयारियों के बारे में भी बातचीत की। वित्त मंत्रालय ने ट्वीट में कहा, ‘‘दोनों पक्षों ने कोविड, टीकाकरण, आर्थिक सुधार, जलवायु परिवर्तन सम्मेलन की तैयारियों, विश्व बैंक से भारत के लिए ऋण की

संबंधित जानकारी
lovebet होल्डिंग्स (माल्टा) लिमिटेड

वाशिंगटन, 16 अक्टूबर (भाषा) कोविड-19 के टीके के विनिर्माण को प्रोत्साहन देने के क्वाड के प्रयासों के तहत अमेरिका के अंतरराष्ट्रीय विकास वित्त निगम (डीएफसी) के प्रमुख डेविड मार्किक इस महीने भारत यात्रा पर जाएंगे। डीएफसी एक सरकारी विकास वित्त संस्थान है, जो निम्न और मध्यम आय वर्ग वाले देशों में विकास परियोजनाओं में निवेश करता है। डीएफसी के मुख्य परिचालन अधिकारी (सीओओ) मार्किक 24 अक्टूबर से 26 अक्टूबर तक उच्चस्तरीय प्रतिनिधिमंडल के साथ भारत यात्रा पर जाएंगे। एक आधिकारिक बयान में कहा गया है कि हैदराबाद में यह प्रतिनिधिमंडल भारतीय टीका विनिर्माता बायोलॉजिकल-ई के कार्यालय जाएगा और

बुकमेकर पंजीकृत जैकपॉट

वाशिंगटन, 16 अक्टूबर (भाषा) कोविड-19 के टीके के विनिर्माण को प्रोत्साहन देने के क्वाड के प्रयासों के तहत अमेरिका के अंतरराष्ट्रीय विकास वित्त निगम (डीएफसी) के प्रमुख डेविड मार्किक इस महीने भारत यात्रा पर जाएंगे। डीएफसी एक सरकारी विकास वित्त संस्थान है, जो निम्न और मध्यम आय वर्ग वाले देशों में विकास परियोजनाओं में निवेश करता है। डीएफसी के मुख्य परिचालन अधिकारी (सीओओ) मार्किक 24 अक्टूबर से 26 अक्टूबर तक उच्चस्तरीय प्रतिनिधिमंडल के साथ भारत यात्रा पर जाएंगे। एक आधिकारिक बयान में कहा गया है कि हैदराबाद में यह प्रतिनिधिमंडल भारतीय टीका विनिर्माता बायोलॉजिकल-ई के कार्यालय जाएगा और

गरम जानकारी