पोकर ऑफ़लाइन

पोकर ऑफ़लाइन

time:2021-10-17 05:10:13 अगले साल 87% कंपनियां बढ़ाएंगी वेतन : सर्वे Views:4591

ऑनलाइन पोकर नई पोकर ऑफ़लाइन 188bet मज़ा,casumo सैन क्वेंटिन,lovebet 1. डिवीजन,lovebet ई ट्रांसफर निकासी समय,lovebet पुर्तगाल,lovebet365,बी क्रिकेट बल्ला,बैकारेट आईडी3,बैकारेट-001,सट्टेबाजी संघ,कैसीनो के दिनों में न्यूनतम निकासी,कैसिनोचन2,कॉमोन इंडिया रिव्यू,क्रिकेट पिच की लंबाई मीटर . में,निर्यात तथ्य,मछली पकड़ने की भीड़ APK,फुटबॉल टी शर्ट डिजाइन,क्रिकेट के जीके प्रश्न हिंदी में,जुआ कौशल कैसे सीखें,दशक का आईपीएल xi,जंगल रम्मी मोबाइल,लाइव कैसीनो गेम ऐप,लॉटरी एजेंसी,पीसी के लिए लूडो,एनवाई लॉटरी सरकार,ऑनलाइन जुआ साइटें,ऑनलाइन पोकर यूएसए,परिमच नियम,पोकर समाचार भारत,प्रतिष्ठित फुटबॉल कैश नेटवर्क,नियम उपयोगितावाद,रम्मीकल्चर सीईओ,स्लॉट मशीन समस्या निवारण,स्पोर्ट्स बुक्स 2021,स्पोर्ट्सबुक यूएसए,टेक्सास होल्डम विविधताएं,आपने खेल रद्द कर दिया,कौन सा बैकारेट गेम बेहतर है,शून्य निर्यात,ऑनलाइन जुआ time,क्रिकेट upcoming,गोवा पिन कोड,तीन पत्ती टाइम,बकरा लड़ाई,बैकारेट file,सबसे प्रभावी बैकरेट फ्लैट सट्टेबाजी विधि, .अगले साल 87% कंपनियां बढ़ाएंगी वेतन : सर्वे

सर्वे के अनुसार, घरेलू बाजार में काम कर रही कंपनियों ने इस साल कर्मचारियों के वेतन में औसत 6.1 फीसदी की वृद्धि की.
नई दिल्ली : भारत में काम करने वाली करीब 87 फीसदी कंपनियां 2021 में कर्मचारियों का वेतन बढ़ाने की योजना बना रही हैं. इसके मुकाबले 2020 में करीब 71 फीसदी कंपनियों ने ही वेतन में वृद्धि की. ग्‍लोबल प्रोफेशनल सर्विसेज फर्म एओन के सर्वे से इसका पता चलता है.

सर्वे के अनुसार, कोरोना संकट से प्रभावित अर्थव्यवस्था के दौर में घरेलू बाजार में काम कर रही कंपनियों ने इस साल कर्मचारियों के वेतन में औसत 6.1 फीसदी की वृद्धि की. यह पिछले एक दशक में सबसे निचला स्तर है. हालांकि, अगले साल औसत वेतनवृद्धि 7.3 फीसदी रहने का अनुमान है.

इसे भी पढ़ें : घर खरीदने के लिए क्‍या यह सबसे अच्‍छा समय है?

एओन की बुधवार को जारी सर्वे रिपोर्ट में कहा गया है कि देश में काम करने वाली कंपनियों ने कोविड-19 से जुड़ी चुनौतियों के बावजूद लचीलारुख दिखाया है. 2020 में करीब 71 फीसदी कंपनियों ने वेतन में वृद्धि की. जबकि 2021 में 87 फीसदी कंपनियां वेतनवृद्धि करने के पक्ष में हैं.

सर्वे के मुताबिक, भारत में औसत वेतनवृद्धि 2020 में 6.1 फीसदी रही. यह 2009 के 6.3 फीसदी के औसत से भी नीचे है. एओन के 'सैलरी ट्रेंड्स सर्वे इन इंडिया' में कहा गया है कि अगले साल कंपनियां वेतन में औसत 7.3 फीसदी की वृद्धि करेंगी. एओन ने इसके लिए 20 से अधिक इंडस्‍ट्रीज की 1,050 कंपनियों के बीच सर्वे किया था.

सितंबर-अक्टूबर 2020 की स्थिति तक 87 फीसदी कंपनियों ने 2021 में वेतनवृद्धि देने की प्रतिबद्धता जताई. जबकि इसमें 61 फीसदी कंपनियों ने कहा कि वे पांच से 10 फीसदी की वेतनवृद्धि देंगी.

इसे भी पढ़ें : होम लोन की मांग बढ़ने से बैंकों में छिड़ी ब्‍याज दर घटाने की जंग

वर्ष 2020 में 71 फीसदी कंपनियों ने वेतनवृद्धि दी. इसमें से 45 फीसदी ने पांच से 10 फीसदी के बीच वेतनवृद्धि दी. एओन में पार्टनर और सीईओ (परफॉर्मेंस एंड रिवॉर्ड सॉल्‍यूशंस) नितिन सेठी ने कहा, ''यह एक अनोखा साल है. कंपनियां अपने कर्मचारियों और ग्राहकों में निवेश कर रही हैं. कोविड-19 के गहरे असर के बावजूद कंपनियों ने कर्मचारियों को लेकर परिपक्‍व और लचीला रुख दिखाया है.''

हाई-टेक, आईटी, आईटीईएस, लाइफ साइंसेज, ई-कॉमर्स, केमिकल्‍स और प्रोफेशनल सर्विसेज ऐसे सेक्‍टरों में हैं जिनमें सबसे ज्‍यादा वेतनवृद्धि होने के आसार हैं.

हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.

टॉपिक

वेतनवृद्धिसैलरी ट्रेंड्स सर्वे इन इंडियाकंपन‍ियांएओनसैलरी में बढ़ोतरीसर्वे

ETPrime stories of the day

As cryptocurrency bull run gets investors’ attention, smart scams, FOMO and greed are out to get you
Cryptocurrency

As cryptocurrency bull run gets investors’ attention, smart scams, FOMO and greed are out to get you

15 mins read
Ritesh Agarwal has steered Oyo from chaos to clarity. Is that enough to pull off a successful IPO?
Markets

Ritesh Agarwal has steered Oyo from chaos to clarity. Is that enough to pull off a successful IPO?

8 mins read
People vs. banks: Will the common man benefit as the transparency fight enters the last leg?
Banking

People vs. banks: Will the common man benefit as the transparency fight enters the last leg?

12 mins read

इंदौर, 16 अक्टूबर (भाषा) स्थानीय सर्राफा बाजार में शनिवार को सोना के भाव में 300 रुपये प्रति 10 ग्राम की कमी हुई। आज चांदी 150 रुपये प्रति किलोग्राम महंगी बिकी। कारोबारियों के अनुसार मूल्यवान धातुओं के औसत भाव इस प्रकार रहे।सोना 48700 रुपये प्रति 10 ग्राम,चांदी 64350 रुपये प्रति किलोग्राम,चांदी सिक्का 750 रुपये प्रति नग।एनालिटिक्‍स संबंधी जॉब्‍स निकालने वाली कंपन‍ियों में एक्‍सेंचर, एमफेसिस, कग्निजेंट टेक्‍नोलॉजी सॉल्‍यूशन, केपजेमिनी, इंफोसिस, टेक महिंद्रा, आईबीएम इंडिया, डेल, एचसीएल टेक्‍नोलॉजी और कोलेबरा टेक्‍नोलॉजी प्रमुख हैं.Indian Railway News: ये 11 ट्रेन हो गई हैं कैंसिल, 2 ट्रेनों का बदला टाइम-टेबल; चेक कर लें कहीं आप तो नहीं करने वाले हैं यात्रा

इंदौर, 16 अक्टूबर (भाषा) स्थानीय सियागंज किराना बाजार में शनिवार को खोपरा गोला के भाव में नौ रुपये प्रति किलोग्राम की तेजी गुरुवार की तुलना में हुई। आज शक्कर 20 रुपये प्रति क्विंटल सस्ती बिकी।कारोबारी सूत्रों के मुताबिक शक्कर में आठ गाड़ी की आवक हुई।शक्कर- गुड़शक्कर 3700 से 3740, शक्कर (एम) 3800 से 3820 रुपये प्रति क्विंटल।गुड़ भेली 3600 से 3650, गुड़ कटोरा 3800 से 3850, गुड़ लड्डू 4000 से 4050, गुड़ मालवी 3900 से 3950 रुपये प्रति क्विंटल।खोपरा गोला खोपरा गोला 200 से 220 रुपये प्रति किलोग्राम।खोपरा बूरा 2550 से 3500 रुपये प्रति 15 किलोग्राम।हल्दी हल्दी (खड़ी) सांगली 159रिपोर्ट में कहा गया है कि अनलॉक उपायों के बाद आवाजाही में सुधार से रियल एस्टेट क्षेत्र में नियुक्ति गतिविधियां 44 फीसदी सुधरी हैं.फेस्टिव सीजन शॉपिंग: ऑफर्स पर रहें सावधान, ऑनलाइन खरीदारी से पहले जान लें छिपी हुई शर्तें

नयी दिल्ली, 16 अक्टूबर (भाषा) डी-मार्ट नाम से खुदरा श्रृंखला का संचालन करने वाली एवेन्यू सुपरमार्ट्स लि. ने शनिवार को बताया कि सितंबर, 2021 को समाप्त चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में उसका एकीकृत शुद्ध लाभ दोगुना होकर 417.76 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। एवेन्यू सुपरमार्ट्स ने बीएसई को भेजी सूचना में यह जानकारी दी। इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में कंपनी ने 198.53 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया था। कंपनी ने बताया कि चालू वित्त वर्ष की जुलाई-सितंबर तिमाही में उसकी परिचालन आय 46.79 प्रतिशत बढ़कर 7,788.94 करोड़ रुपये हो गई, जो इससे पिछलेजून में कर्मचारी राज्‍य बीमा स्‍कीम (ईएसआईसी) से जुड़ने वाले मेंबर्स की संख्‍या में भी तेज इजाफा हुआ है.अच्‍छे इंक्रीमेंट के लिए अभी दो साल करना पड़ेगा इंतजार : एक्‍सपर्ट्स

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
जोकर इमेज डाउनलोड

इसके साथ ही देश के इस सबसे बड़े बैंक ने कहा कि वॉलेंटरी रिटायरमेंट स्‍कीम (वीआरएस) लागत में कटौती करने के लिए नहीं है.

ऑनलाइन पोकर नकद

नयी दिल्ली, 16 अक्टूबर (भाषा) अंतरराष्ट्रीय सौर गठबंधन (आईएसए) की चौथी आमसभा का आयोजन वर्चुअल तरीके से 18 से 21 अक्टूबर तक किया जाएगा। इस बैठक में सौर ऊर्जा के क्षेत्र में किए गए महत्वपूर्ण उपायों पर चर्चा होगी। साथ ही इसमें ‘वन सन वन वर्ल्ड वन ग्रिड’ (ओएसओडब्ल्यूओजी) के क्रियान्वयन पर भी विचार-विमर्श किया जाएगा। बैठक की अध्यक्षता बिजली, नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्री आर के सिंह करेंगे। आईएसए ने शनिवार को एक बयान में यह जानकारी दी। बयान में कहा गया है कि बैठक में ओएसओडब्ल्यूओजी पहल के परिचालन को लेकर महत्वपूर्ण कदमों, 2030 के लिए 1,000

ऑनलाइन खेल

रेलवे बोर्ड के चेयरमैन वीके यादव ने बताया कि कोविड-19 महामारी के कारण अब तक परीक्षा आयोजित नहीं कराई जा सकी थी.

बैकारेट राशि चक्र

पहले चरण में 31,277 को जिलों का आवंटन हो गया है. इसमें से 15,933 टीचर सामान्‍य कैटेगरी के हैं. 8,513 अन्‍य पिछड़ा वर्ग, 6,615 अनुसूचित जाति और 215 अनुसूचित जनजाति के हैं.

फुटबॉल वेतन रैंकिंग

जारी किए गए नोटिफिकेशन में कहा गया है कि सिटी बैंक (Citi Bank) के सिस्टम्स के लिए एक मेंटीनेंस प्रक्रिया शिड्यूल की गई है। मेंटीनेंस की प्रक्रिया 16 अक्टूबर रात 9.30 बजे से 17 अक्टूबर सुबह 6.30 बजे तक चलेगी।

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी